Black box testing & white box testing के बीच अंतर जाने हिंदी में….

इस पोस्ट में आपको बताया जाएगा (Differences between black box testing & white box testing) Black box Testing तथा white box Testing के बीच अंतर हिंदी में….   बताऊंगा,

तो चलिए शुरू करते हैं:-


Differences between Black box testing & White box testing in Hindi :-

Black box Testing और white box Testing के बीच अंतर

Software testing मुख्यतः दो वर्गों में विभाजित है

  • Black box testing:

एक सॉफ्टवेयर टेस्टिंग विधि है जिसमे टेस्टिंग की जा रही वस्तु की आंतरिक संरचना डिजाइन का परीक्षक को ज्ञात नहीं होता है

  • White box testing:

एक सॉफ्टवेयर टेस्टिंग विधि है जिसमें परीक्षण किये जा रहे आइटम की आंतरिक संरचना, डिजाइन परीक्षक को ज्ञात होता है।

 

Black box तथा white box के बीच अंतर

BLACK BOX TESTING

WHITE BOX TESTING

इस Testing में आंतरिक संरचना या code छिपा हुआ होता है परंतु उसके बारे में ज्ञात नहीं होता है इस टेस्टिंग में आंतरिक संरचना और कोर्ट तथा प्रोग्राम की पूर्ण जानकारी प्राप्त होती है.
यह मुख्यतः सॉफ्टवेयर टेस्टिंग द्वारा किया जाता है. यह मुख्यतः software developers द्वारा किया जाता है.
Implementation के लिए जानकारी की जरूरत नहीं होती है. Implementation के लिए जानकारी की आवश्यकता होती है.
यह सॉफ्टवेयर का functional टेस्ट होता है.   इस टेस्टिंग में सॉफ्टवेयर का internal test होता है.
यह परीक्षण specification document के आधार पर शुरू किया जा सकता है.  यह टेस्टिंग स्ट्रक्चर के आधार पर किया जाता है.
इस टेस्टिंग में प्रोग्रामिंग का ज्ञान आवश्यक नहीं होता है. इस टेस्टिंग में प्रोग्रामिंग का ज्ञान होना आवश्यक है.
यह सॉफ्टवेयर का Behavior टेस्टिंग होता है. क्या सॉफ्टवेयर का logic टेस्टिंग होता है.
यह सॉफ्टवेयर के परीक्षण के उच्च स्तर पर लागू होता है. के सॉफ्टवेयर के परीक्षण के न्यूनतम स्तर पर लागू होता है.
इसे Closed testing भी कहा जाता है. इसे clear box testing कहा जाता है.
इस टेस्टिंग में कम से कम समय लगता है. इस टेस्टिंग में अधिक समय लगता है.
यह एल्गोरिथ्म टेस्टिंग के लिए उपयुक्त नहीं है. यह एल्गोरिथ्म टेस्टिंग के लिए उपयुक्त है.

 

Black box testing के प्रकार:

  • Functional Testing
  •  Non-functional Testing
  •  Regression Testing

White box testing के प्रकार:

  • Path testing
  • Loop testing
  • Condition testing

 


निवेदन:- अगर आपके लिए यह आर्टिकल useful रहा हो तो इसे अपने दोस्तों और classmates के साथ अवश्य share कीजिये,

या अन्य विषयों से related कोई question हो तो नीचे कमेंट के द्वारा बताइए. thanks.


इसे भी देखे:

Hello दोस्तों! नीचे दिए गए links पर click  करके आपको हम  इस पोस्ट में  (Computer Online Test) की Practice कराएंगे जिससे आप अपने  CCC, O level , कम्प्युटर GK की practice कर सकते है.

इस post के द्वारा आप  अपनी कम्प्युटर की  नॉलेज बड़ सकते है.

उसके साथ ही साथ आप अपने कई प्रकार के पेपरो की भी तैयरी  भी कर सकते है.

जैसे की CCC, O level , कम्प्युटर GK की practice कर सकते है,

Leave a Comment