what is number system? नंबर सिस्टम क्या है



Number System (नंबर सिस्टम )

number system विभिन्न प्रकार की संख्याओ का समूह होता है  जिसका use computer मे किसी data /Instructions(निर्देश) को व्यक्त करने के  लिए  किया  जाता है

Types of Number System

computer system के द्वारा use की जाने वाली नंबर सिस्टम  मुख्यतः चार प्रकार के होते है

   1. binary number system(बाइनरी नंबर सिस्टम )

हमारा कम्प्युटर डाटा स्टोर ओर गणनए करने के लिए binary number का use करता है इस नंबर सिस्टम मे केवल दो अंक होते है (0,1)। इस नंबर सिस्टम का आधार दो होता है इसलिए इसे द्वि – आधारी या बाइनरी संख्या प्रणाली कहा जाता है बाइनरी प्रणाली  का  आधार 2 होने के कारण उसके  मान दायी(right) ओर बाई(left) ओर  क्रमह: दो गुने   होते है अर्थात 1,2,4,8,16,32,64 आदि

   2. decimal number system(दशमलव या दशमिक संख्या प्रणाली)

दैनिक जीवन में प्रयुक्त होने वाली number system को decimal number system कहा जाता है। इस संख्या             प्रणाली में 0,1,2,3,4,5,6,7,8 और 9 दस संकेत मान होते हैं। इस संख्या प्रणाली का आधार 10 होता है। दशमल प्रणाली का स्थानीय मान संख्या के दाईं से बाईं ओर आधार 10 की घात की वृद्वि के क्रम के रूप में होता हैं। इसी प्रकार दशमलव बिन्दु के दाईं ओर स्थाीनय मान 10 की घातों के रूप में घटते जाते हैं।

   3. Octal Number System

इस प्रणाली में 0,1,2,3,4,5,6 और 7 इन आठ अंकों का प्रयोग किया जाता हैं। जिस कारण इसका आधार आठ              होता हैै। आधार 8 होने के कारण octal number system में अंको के स्थानीय मान दाईं ओर से बाईं ओर क्रमशः          आठ गुने होते जातें हैं अर्थात 80, 81,82, 83 आदि तथा दशमलव बिन्दु के दाईं ओर क्रमशः 8-1, 8-2, 8-3 आदि होतें है।

   4.Hexadecimal number system  (हेक्सा – डेसीमल या षटदाशमिक संख्या प्रणाली)

हेक्सा – डेसीमल शब्द दो अक्षरों से मिलकर बना है- हेक्सा $ डेसीमल। हेक्सा से तात्पर्य छः तथा डेसीमल से तात्पर्य       दस से होता है। अतः इस संख्या प्रणाली में कुल 16(0,1,2,3,4,5,6,7,8,9, A ,B ,C,D,E,F ) अंक होते हैं इसके            मुख्य मान क्रमशः 0 से 15 तक होतें हैं , परन्तु 10, 11, 12 आदि को दो अलग – अलग अंक न समझ लिया             जाए, इसलिए हम अंकों 10,11,12,13,14 और 15 के स्थान पर क्रमशः A,B,C,D,E तथा F अक्षर लिखते है। आधार 16 के कारण हेक्सा – डेसीमल संख्या प्रणाली में अंकों के स्थानीय मान दाईं ओर क्रमशः 16 गुना होते जाते है। अर्थात 160,161,162, आदि। इसी प्रकार दशमल बिन्दु के दाईं ओर क्रमशः 16-1, 16-2, 16-3 आदि होते हैं।

Leave a Comment